भोपाल की रंजीता अशेष मिसीज इंडिया दिल्ली एन सी आर के फाइनल मे

Bhopal's-Ranjita

अभी हाल ही मे 31 मार्च को मिसीज इंडिया दिल्ली एन सी आर के आॅडिशन सम्पन्न हुआ। दिल्ली के कोने कोने से आई महिलाओं ने बढ़ चढ़ कर इसमे हिस्सा लिया। दिपाली फड़नीस के द्वारा आयोजित मिसीज इंडिया बहुत ही प्रतिष्ठित मंच है जो शादीशुदा महिलाओं को अपने वास्तविक क्षमताओं से अवगत कराती है।ये मिसीज इंडिया मे रोल मॉडल खोज रहे हैं जो समाज को नई दिशा दिखा सके।

आॅडिशन मे मिस्टर सलीम सैयद (बालीवुड फिल्म प्रडयूसर),मिस्टर एहमद कबीर (बालीवुड फिल्म डिरेक्टर),मिसीज रितु सूद (बोर्ड आॅफ डिरेक्टर मिसीज इंडिया),अंजना कुथियाला (सोशल एक्टिविस्ट),रेशम चावला (डिरेक्टर आॅफ इवेन्ट) जूरी के सदस्य थे। जिन्होने प्रतिभागियों से काफी सवाल जवाब किए।दिल्ली के कनॉट प्लेस मे टाऊन हाउस कैफे मे आयोजित आॅडिशन दो राउन्ड मे सम्पन्न हुए।पहला इन्ट्रोडक्शन राउन्ड दूसरा टैलेन्ट राउन्ड। जो भी मिसीज दिल्ली की विजेता होगी वो अपने राज्य का मिसीज इंडिया मे प्रतिनिधित्व करेगी।

मिसीज इंडिया का ग्रैंड फिनाले अगस्त माह मे होना है।अभी राज्य स्तर पर सेलेक्शन चल रहे।भोपाल की श्रीमती रंजीता अशेष जिनके पति सैन्य अधिकारी हैं और दिल्ली मे कार्यरत हैं,ने भी इस कांटेस्ट मे हिस्सा लिया था।वे अभी ग्रैंड फिनाले मे पहुँच चुकी है।पूरे आॅडिशन मे रंजीता एक ऐसी महिला थी जिन्होने साड़ी पहनी और हिन्दी लेखिका होने के नाते हिन्दी भाषा मे अपना इंट्रोडक्शन दिया।जूरी मेम्बर से अपनी अलग व्यक्तित्व की वजह से उन्होंने काफी प्रशंसा बटोरी। टैलंट राउण्ड मे भी जहाँ अधिकांश महिलाओं ने मनमोहक नृत्य प्रस्तुत किया वहीं रंजीता ने अपनी हिन्दी कविता ‘मै एक लेखिका हूँ” से सबका दिल जीत लिया।

रंजीता एक स्थापित लेखिका एवं दिल्ली के आगमन..अराइवल आॅफ ड्रिम्स (साहित्यिक समूह) की सहसंथापिका हैं।वे टेल्कोइनफोसलुशन्स कंपनी मे कंटेन्ट राइटर भी हैं। एक बेहतरीन संचालिका एवं बलॉगर भी हैं। इस वर्ष उन्हे उनके साहित्यिक एवं समाजिक कार्यों के लिए अंतराष्ट्रिय महिला दिवस के उपलक्ष्य पर तेजस्विनी अवार्ड से सम्मानित किया गया था।सकारात्मक सोच रखने वाली रंजीता को दोस्तो सह पाठियो ने उन्हे ढेरो शुभकामनाएं दी।

Leave a Response