पीएम मोदी ने 16वीं लोकसभा में दिया अंतिम भाषण, खड़गे की तारीफ की, राहुल पर कसा तंज

16th Lok Sabha

नई दिल्ली। 16वीं लोकसभा के आखिरी दिन पीएम मोदी ने लोकसभा में अंतिम भाषण दिया। इस दौरान सांसदों और संसद में किए गए कार्यों का भी उन्होंने जिक्र किया। पीएम ने हल्के-फुल्के अंदाज में विपक्ष पर चुटकियां लीं और कई सांसदों की तारीफ भी की। पीएम ने अपने भाषण में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे की तारीफ की तो वहीं राहुल गांधी पर तंज भी कसा। मोदी ने सभी सांसदों के साथ मुलायम सिंह यादव को विशेष धन्यवाद भी दिया।
PM Modi praised Kharge for his last speech in 16th Lok Sabha
मेरे लिए सब नया था: पीएम
पीएम मोदी ने भाषण में कहा, ‘2014 में मैं उन सांसदों में से एक था, जो पहली बार चुनकर आए हैं। मैं यहां बिल्कुल नया था। करीब-करीब 3 दशक बाद पूर्ण बहुमत वाली और आजादी के बाद पहली बार पूर्ण बहुमत वाली गैर कांग्रेस सरकार 2014 में बनी थी। 2014 के बाद 8 सत्र ऐसे थे, जिनमें 100 प्रतिशत से ज्यादा कम हुआ है। 16वीं लोकसभा में हम हमेशा गर्व करेंगे कि देश में पहली बार सबसे ज्यादा महिलाएं चुनकर आईं। देश में पहली बार इस सरकार में सर्वाधिक महिला मंत्री हैं।’

राहुल पर चुटकी
पीएम मोदी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा, ‘हम कभी-कभी सुनते थे कि भूकंप आएगा, लेकिन पांच साल में कभी भूकंप नहीं आया। कई बड़े-बड़े लोगों ने हवाई जहाज उड़ाए, लेकिन यह लोकतंत्र की ताकत है कि कोई भूकंप और हवाई जहाज उस ऊंचाई को छू नहीं पाया।’ पीएम ने कहा, ‘मैं पहली बार इस सदन में आया हूं तो कई चीजें मेरे लिए नई थीं। पहली बार मुझे पता चला कि गले मिलना और गले पड़ने में क्या अंतर है, पहली बार मैंने आंखों की गुस्ताखियां भी देखीं।’

गौरतलब है कि राहुल गांधी ने संसद सत्र में अपने भाषण के बाद पीएम मोदी को गले लगाया था और उसके बाद उनके आंख मारने की घटना देश की मीडिया में चर्चा का विषय बन गई थी। अपने भाषण में पीएम मोदी ने टीडीपी सांसद की वेशभूषा का जिक्र भी किया। उन्होंने कहा कि कई बार हमारी टेंशन को टीडीपी के एक सांसद अपनी अटेंशन में बदल देते थे।

खड़गे की तारीफ
पीएम मोदी ने लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकर्जुन खड़गे की तारीफ करते हुए कहा, ‘मेरे भाषण को दाना पानी खड़गे जी से ही मिलता था। किसी समय आडवाणी जी सदन में पूरा समय बैठते थे, आज खड़गे  भी पूरे समय सदन में होते हैं, हम सबको उनसे यह सीखना चाहिए। इस उम्र में भी उनकी ऊर्जा कम नहीं हुई है।’

‘विपक्ष ने भी दिया योगदान’
पीएम ने कहा, ‘आज मैं कोई उपलब्धि बताने नहीं आया हूं। लेकिन कई काम इस सदन ने किए हैं। विपक्ष में रहकर भी कई सांसदों ने इसमें अपना योगदान दिया है। हम सबके लिए खुशी की बात है कि आज देश छठे नंबर की अर्थव्यवस्था बन गया है। आज भारत का अपना आत्मविश्वास बेहद बड़ा है। आज विश्व की सभी प्रतिष्ठित संस्थाएं भारत के उज्ज्वल भविष्य के संबंध में अपनी संभावनाएं बताती हैं।’

पूर्ण बहुमत की सरकार का जलवा अलग
पीएम मोदी ने कहा कि लोग कहते हैं कि मोदी और सुषमा जी के कार्यकाल में दुनिया में भारत की इज्जत बढ़ी है। जबकि इसका कारण मोदी और सुषमा जी नहीं हैं। पीएम ने कहा, ‘दुनिया में भारत की इज्ज्त बढ़ी है क्योंकि यहां पूर्ण बहुमत वाली सरकार है। पूर्ण बहुमत वाली सरकार का दुनिया में असर ज्यादा होता है। उसका यश मोदी और सुषमा जी को नहीं जाता है, बल्कि 2014 के जनता के निर्णय को जाता है।’

Leave a Response