प्रयागराज: कुंभ में राम मंदिर पर बोले राम माधव, साधु-संतों की इच्छा का होगा सम्मान

Ram temple

प्रयागराज। अयोध्या में राम मंदिर मुद्दे को लेकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के महासचिव राम माधव ने बड़ा बयान दिया है। राम माधव ने प्रयागराज में आयोजित कुंभ मेले के दौरान कहा कि राम मंदिर मामले में साधु-संतों की इच्छाओं का सम्मान किया जाएगा। इस बयान के बाद सियासी हल्कों में कयासों का दौर शुरू हो गया है।
Prayagraj: Rama, Madhav, saints, saints and saints, will be honored on the Ram temple at Kumbh
कुंभ में डुबकी लगाने पहुंचे राम माधव ने कहा कि जल्द ही राम मंदिर का सपना पूरा होगा। मीडिया के एक सवाल के जवाब में बीजेपी महासचिव ने कहा, ‘उनकी (साधु-संतों की) इच्छाशक्ति के सामने सबको झुकना पड़ेगा। हम अदालत के आदेश के निरीक्षण में हैं। राम मंदिर अवश्य बनेगा। संत-महात्माओं के साथ-साथ करोड़ों भारत के देशवासियों की भी इच्छा है कि भव्य राम मंदिर बने, वह जरूर साकार होगा। जल्दी ही होगा।’

‘मंदिर निर्माण के लिए प्रतिबद्ध बीजेपी’
राम मंदिर मुद्दे पर बीजेपी की प्रतिबद्धता और मामले के सुप्रीम कोर्ट में होने का हवाला देते हुए राम माधव ने कहा, ‘हम हमेशा राम मंदिर निर्माण के लिए प्रतिबद्ध रहे हैं और इस समय क्योंकि सुप्रीम कोर्ट के सामने विषय है, जल्दी ही इसका एक समाधान जरूर मिलेगा।’
बता दें कि उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में आयोजित कुंभ मेले की शुरूआत में ही राम मंदिर से जुड़े पोस्टर्स शहर में देखे जाने लगे थे। जहां कुछ संतों ने पोस्टर्स के जरिए राम मंदिर निर्माण की मांग को मजबूती से सरकार के सामने रखने की कोशिश की थी वहीं, परमहंस सेवाश्रम के संत शिवयोगी मौनी स्वामी ने एक महीने तक रोज कुंभ क्षेत्र में 33 हजार दीपक प्रज्ज्वलित करने का संकल्प लिया।

‘हम 24 घंटे में कर देंगे राम मंदिर मुद्दे का समाधान’
राम मंदिर को लेकर हाल ही में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी एक बड़ा बयान दिया था। उन्होंने कहा था, ‘मैं कहना चाहता हूं कि अदालत को अपना फैसला शीघ्र देना चाहिए। अगर वह ऐसा करने में असमर्थ हैं तो वह मसला हमें सौंप दें। हम राम जन्मभूमि विवाद का समाधान 24 घंटे के भीतर कर देंगे। हम 25 घंटे नहीं लेंगे।

‘सरकार निर्णय ले या न्यायालय जल्द न्याय दे’
यही नहीं, हाल ही में साध्वी ऋतंभरा राम जन्मभूमि से जुड़े एक मुद्दे को लेकर लखनऊ पहुंची थीं। उन्होंने कहा था कि राम मंदिर पर विलंब हिंदू समाज की आस्था के साथ मजाक है। हिंदुओं के आराध्य टाट में बैठे हैं, ऐसे में हम कैसा महसूस कर सकते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि हिंदू समाज का हृदय भगवान राम के साथ धड़कता है। ऐसा मामला कोर्ट की प्राथमिकता होनी चाहिए। साध्वी ने कहा इस मामले में सरकार निर्णय ले या न्यायालय जल्द न्याय दे।

Leave a Response