बारिश और बर्फबारी से हिमाचल में कड़ाके की ठंड, शिमला में तापमान शून्य से नीचे लुढ़का

cold wave in Shimla

शिमला। बारिश व बर्फबारी से हिमाचल प्रदेश में कड़ाके की ठंड है। राजधानी शिमला समेत प्रदेश के कई क्षेत्रों में तापमान शून्य या इससे नीचे लुढ़क गया है। प्रदेश के 11 क्षेत्रों का तापमान माइनस में है। बफीर्ली हवाओं के कारण सोमवार को लाहुल स्पीति के जिला मुख्यालय केलंग में तापमान माइनस 17 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। शिमला में भी बफीर्ली हवाओं के सामने धूप बेअसर रही।
Rain and snowfall in Himachal Pradesh, cold wave in Shimla rolled down
सोमवार को प्रदेश में न्यूनतम तापमान में सामान्य से तीन से चार डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान में सामान्य से चार से पांच डिग्री सेल्सियस की कमी आई। लोगों को ठंड से जल्द राहत मिलने के आसार नहीं हैं। पहले हुई भारी बर्फबारी के कारण कई क्षेत्र शेष विश्व से कटे हुए हैं। हालांकि प्रशासन अवरुद्ध मार्गों को बहाल करने में जुटा हुआ है मगर जनजातीय क्षेत्रों सहित अन्य इलाकों में जनजीवन सामान्य नहीं हुआ है। ठंड के कारण प्रदेश के ऊपरी इलाकों में पानी जमने से कई पेयजल योजनाएं प्रभावित हैं। इन क्षेत्रों में लोग पानी के लिए तरस रहे हैं। बर्फबारी के कारण कई इलाकों में बिजली आपूर्ति बाधित है। किन्नौर, लाहुल स्पीति व डोडरा क्वार में विद्युत आपूर्ति बहाल नहीं हुई है। निचार, कल्पा व जुब्बल में सोमवार को विद्युत आपूर्ति बहाल कर दी गई।

उत्तराखंड
उत्तराखंड में बुधवार से फिर मौसम बिगड़ने की आशंका है। मौसम विभाग के अनुसार बुधवार और गुरुवार को प्रदेश में कई स्थानों पर बर्फबारी के साथ ही निचले स्थानों पर बारिश के आसार बन रहे हैं। हालांकि मंगलवार को मौसम साफ रहेगा। कुल 13 में से आठ जिलों में 23 मोटर मार्ग बंद हैं। इसके अलावा 83 गांव अब भी बर्फ से ढके हैं। 148 गावों में बिजली नहीं आपूर्ति सुचारु नहीं हो पाई है। केदारनाथ धाम में भी अभी तक बिजली आपूर्ति बहाल नहीं हो पाई है।

जम्मू कश्मीर
जम्मू कश्मीर में 30 जनवरी से मौसम के मिजाज फिर से बदलने वाले हैं। उधा पवर्तीय और निचले इलाकों में फिर से बफबार्री व बारिश के आसार है। वहीं 300 किलोमीटर लंबे श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग में फंसे छोटे-बड़े वाहनों को सोमवार जम्मू से श्रीनगर रवाना किया गया। श्रीनगर से जम्मू की तरफ जाने की किसी वाहन को अनुमति नहीं दी गई। श्रीनगर में अधिकतम तापमान 11.1 डिग्री और न्यूनतम तापमान -3.5 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। जबकि गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान -12.6, पहलगाम में न्यूनतम तापमान -13.6 डिग्री सेल्सियस रहा। वादी में सर्दियों का सबसे कठिन दौर कहलाने वाला 40 दिवसीय चिल्ले कलां 31 जनवरी को समाप्त हो रहा है। चिल्ले कलां के बाद 21 फरवरी से 20 दिवसीय चिल्ले खुर्द शुरू हो रहा है। चिल्लेकलां की तुलना में चिल्लोखुर्द में सर्दी की तीव्रता कम होती है। चिल्लेकलां के दौरान वादी में चार बार बफबार्री हुई है।

Leave a Response