महिला का जला शव मिलने से शाजापुर में मचा हड़कंप, नहीं हो पाई शिनाख्त

burnt to death

कालीसिंध (शाजापुर)। बेरछा थाना क्षेत्र के ग्राम घुंसी और घटिट्याखुर्द के बीच सड़क के पास जंगल में करीब 100 फीसदी जला हुआ शव मिला। फिलहाल शिनाख्त नहीं हो सकी है। दरअसल, शव से बिछुड़ी और कान के कुंडल मिले हैं। इस आधार पर शव महिला का होना माना जा रहा है। एफएसएल अधिकारी और पुलिस डॉग ने भी जांच की किंतु कोई ठोस सुराग हाथ नहीं लगे। पुलिस ने मामला दर्ज किया है।
Shajapur, burnt to death, found dead in Shajapur
जला शव (कंकाल) मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। जानकारी मिलते ही एसपी शैलेंद्रसिंह चौहान, एएसपी गोपालसिंह धाकड़, बेरछा एसडीओपी सिताराम अवासिया, डीएसपी शिखा सोनी, बेरछा थाना प्रभारी दीपिका शिंदे, एफएसएल अधिकारी आरसी भाटी आदि मौके पर पहुंचे। पुलिस टीम ने यहां करीब तीन घंटे तक जांच की। इस दौरान भी शव के नीचे से हल्का धुंआ निकलता रहा। जांच में ओपीडी, चिकित्सक, वजन, हृदय रोग आदि के साथ मुगली रोड पते संबंधी जले कागज के टुकड़े मिले। दस्तावेजों का संबंध सीहोर जिले के किसी गांव से होने पर पुलिस ने सीहोर पुलिस को सूचना दी है। वहां भी इसे लेकर पड़ताल की जा रही है।

शाम के समय ड्रम दिखा, रात में आग देखी
ग्रामीणों के अनुसार जहां जला हुआ शव मिला है, वहां गुरुवार शाम करीब छह बजे रोड किनारे हरे रंग का ड्रम देखा था। रात करीब नौ बजे रोड से नीचे (मुख्य सड़क से 100 फीट दूर) आग जलती दिखाई दी। इस पर लोगों ने सोचा ठंड के कारण किसी ने आग लगाई होगी। पुलिस ने शव के पास से कान के कुंडल, घर व गाड़ी की चाबी, थर्मस, जला बोरा, एटीएम कवर, खिड़की के नकूचे आदि बरामद किए हैं। एएसपी धाकड़ का कहना है कि मामला चुनौती पूर्ण है। सबसे पहले शिनाख्ती के प्रयास किए जा रहे हैं।

Leave a Response